अन्य खबरें

होम्योपैथिक मेडीकल कॉलेज के छात्रों ने निकाला रोष मार्च

Homeopathic Medical College Students Overcome Rage March

मामला : होम्योपैथिक कॉलेज के प्रबंधकों की लापरवाही के चलते कॉलेज को बैंक द्वारा सील किए जाने का

 डीएसपी ने प्रबंधकों को विद्यार्थियों की सुरक्षा मुहैया करवाने की चेतावनी

अबोहर/सच कहूँ न्यूज (सुधीर अरोड़ा)।

होम्योपैथिक कॉलेज के प्रबंधकों की लापरवाही के चलते कॉलेज को बंैक द्वारा सील किए जाने के बाद दर दर भटक रहे कॉलेज के छात्रों ने आज रोष स्वरूप शहर में रोष मार्च निकाला, जिसमें अध्यापकों तथा अन्य कर्मचारियों ने मैनेजमैंट के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद उन्होंने डीएसपी को ज्ञापन सौंपा और कॉलेज प्रिंसीपल व कॉलेज प्रबंधकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। जानकारी के अनुसार बंैक द्वारा शुक्रवार शाम तक पूरे कॉलेज व इसके छात्रावास को ताले लगा दिए जाने से छात्रावास में रहने वाले 125 विद्यार्थियों सहित कॉलेज में पढने वाले कुल 200 छात्र-छात्राएं व 80 स्टाफ सदस्य सड़कों पर आ गए। इधर कॉलेज प्रबंधन ने अपने जिम्मेवारी निभाते हुए इनके रहने खाने का प्रबंधन करने की बजाए वहां से निकल गए।

 मैनेजिंग कमेटी के खिलाफ कड़ी कार्यवाई करने की मांग

जिसके बाद दर्जनों छात्राआें ने उन्हें पढ़ाने वाले शिक्षकों के घर पनाह ली जबकि अनेक छात्र छात्राआें ने नेहरू पार्क के सामने बने होम्योपैथिक अस्पताल में बिनां सुविधाआें के पूरी रात गुजारी। देश के विभिन्न 12 राज्यों से आकर यहां शिक्षा हासिल कर रहे इन विद्यार्थियों ने उनके भविष्य को अंधकार मय बनाने के विरोध में आज कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ शहर में रोष मार्च निकाला व नारेबाजी करते हुए डीएसपी कार्यायल पहुचें। डीएसपी ने उनकी बात गंभीरता से सुनते हुए कालेज प्रिंसीपल मनजीत कौर को बुलाया और चेतावनी देते हुए कहा कि रविवार सुबह तक इन बच्चों के रहने, खाने पीने व पढाई का बंदोबस्त किया जाए अन्यथा वे कॉलेज प्रिंसीपल व प्रबंधकों पर मामला दर्ज करने को मजबूर होंगें। इस मौके पर कपिल खत्री, डॉ. विशाल तनेजा, डॉ. हिमाली, डॉ. मनप्रीत, डॉ. सिमर, डॉ. पूनम, डॉ. अनिल मुलड़ी, डॉ. पाल मदान, डॉ. अरविंद के अलावा अन्य छात्र व स्टाफ मौजूद था।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

FIFA 2018 World Cup