हरियाणा

हरियाणा विजन 2030 दस्तावेज़ तैयार

Haryana Vision, Document Prepared, Target, Millions

13 साल में सवा आठ लाख प्रतिव्यक्ति आय का लक्ष्य

  •  24 घंटे बिजली सहित 18 लाख रोजगार का टारगेट भी लिस्ट में शामिल
  •  9.8 फीसदी जीएसडीपी वृद्धि दर सहित कुल 17 लक्ष्य तय

चण्डीगढ़ (अनिल कक्कड़)। प्रदेश में 2030 तक प्रति व्यक्ति आय करीबन सवा आठ लाख रुपए का लक्ष्य सरकार ने तय कर दिया है। इसी के साथ जीएसडीपी वृद्धि दर 9.8 फीसदी, हर जिले में उद्योग, 24 घंटे बिजली भी मुहैया करवाने का टारगेट तय कर दिया गया है। ये लक्ष्य मंगलवार को मनोहर सरकार ने हरियाणा विज़न-2030 दस्तावेज़ में पेश किए। हरियाणा निवास पर प्रदेश के उच्चाधिकारियों एवं मंत्रियों की बैठक में तय हुए इन लक्ष्यों पर लगभग 3 घंटे चली बैठक में माथा-पच्ची की गई।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने संयुक्त राष्ट्र के रेजीडेंट कोर्डिनेटर (एआई) डिएगो पलासिस की उपस्थिति में हरियाणा निवास में हरियाणा विजन-2030 दस्तावेज का लोकार्पण किया। इस दस्तावेज के अंतर्गत आर्थिक, पर्यावरण और सामाजिक बिंदूओं को ध्यान में रखते हुए 17 लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए निर्धारित किया गया है। हरियाणा विजन-2030 दस्तावेज में लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए तीन चरण भी निर्धारित किए हैं जिसमें पहला चरण वर्ष 2019, दूसरा चरण वर्ष 2022 और तीसरा चरण वर्ष 2030 निर्धारित किया गया है।

शत प्रतिशत होंगे शौचालय एवं सीवरेज़

मुख्य 17 लक्ष्यों में पर्यावरण बिंदू के तहत वर्ष 2030 तक कूड़ा-कचरा संग्रहण, शौचालय और सीवरेज की शत-प्रतिशत व्यवथा, 20 ई-वेस्ट और सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट, नवीकरणीय ऊर्जा का कुल ऊर्जा में 14.5 प्रतिशत का हिस्सा, कृषि अवशेष जलाने पर पूर्ण प्रतिबंध, 400 कलाईमेट स्मार्ट गांवों की स्थापना और गिरते भू-जल स्तर पर रोकथाम शामिल हैं। वहीं, सामाजिक बिंदू के तहत वर्ष 2030 तक बच्चों में कुपोषण को समाप्त करना, सभी के लिए आवास, एक लाख पैदा हुए जीवित बच्चों पर मातृत्व मृत्यु दर 70, एक हजार पैदा हुए जीवित बच्चों पर मृत्यु दर 12, प्री-प्राइमरी स्तर पर बच्चों का शत-प्रतिशत नामांकन, प्राईमरी स्तर पर सकल नामांकन अनुपात 97, सैकेण्डरी स्तर पर सकल नामांकन अनुपात 95, बीच में स्कूल छोड़ने की दर शून्य करने और महिलाओं के विरूद्ध अपराधों में कमी लाने को निर्धारित किया गया है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top