हरियाणा

हरियाणा में रोजाना 7500 मैगावाट बिजली खपत

Consumes, MW, Electricity, Consumer, Haryana

बिजली निगमों ने मांग अनुसार पूर्ति किए जाने का किया दावा

चंडीगढ़(सच कहूँ ब्यूरो)। विपक्ष द्वारा निरंतर उठाई जा रही बिजली व पानी की किल्लत को दूर करने की मांग के बीच प्रदेश के बिजली निगमों ने दावा किया है कि वर्तमान में प्रदेश में बिजली की अधिकतम मांग 7500 मैगावाट प्रतिदिन है, जिसे बिजली निगमों द्वारा पूरा किया जा रहा है। प्रदेश में स्थित विभिन्न बिजली तापघरों से 3256 मैगावॉट बिजली की आपूर्ति की जा रही है, जिसमें खेदड़ थर्मल प्लांट की दो यूनिट, पानीपत थर्मल प्लांट की एक यूनिट और वेस्टर्न यमुना कैनाल की एक यूनिट सम्मिलित हैं।

4244 मैगावाट बिजली आपूर्ति अन्य प्रदेशों में स्थित पावर प्लांट्स से की जा रही है, जिनमें अक्षय उर्जा संसाधन भी शामिल हैं। निगम के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश में बिजली आपूर्ति के लिए विभिन्न स्त्रोत अनुबंधित हैं, जिनसे हरियाणा बिजली वितरण निगमों को 11085 मैगावॉट बिजली उत्पादन की क्षमता उपलब्ध है। इसके चलते इलैक्ट्रिसिटी एक्ट और एचईआरसी के दिशा निदेर्शों के अनुसार निगम मैरिट आॅर्डर के आधार पर उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली उपलब्ध करवाते हैं ताकि उपभोक्ताओं को बिजली के लिए कम से कम कीमत चुकानी पड़े।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top