Breaking News

भव्य समारोह के बीच दिल्ली में हुआ फिल्म ‘जट्टू इंजीनियर’ का प्रीमियर शो

Grand Premiere Show, Jattu Engineer, Gurmeet Ram Rahim, HoneyPreet Insan

खचाखच भरे इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में गूंजे जट्टू इंजीनियर के गीत, डायलॉग

नई दिल्ली (संजय मेहरा)। जिस घड़ी का कई दिनों से इंतजार था, बुधवार को आखिर वह आ ही गई। घड़ियों के प्रिंट की जैकेट और महरूम कलर की टी-शर्ट, पायजामा पहने ‘जट्टू इंजीनियर’ यानी डॉ. एमएसजी डा. संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी ने करीब 20 हजार आम व खास लोगों के बीच में फिल्म का प्रीमियर शो देखा। क्या आम और क्या खास, हर कोई फिल्म का दीवाना हो गया।

फिल्म जट्टू इंजीनियर के प्रीमियर के पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत बुधवार को पूज्य गुरुजी दिए गए समय ठीक एक बजे ही इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में प्रवेश कर गए। उनके स्वागत मेंं स्टेडियम के बाहर व अंदर के क्षेत्र को सजाया गया था। स्टेडियम के मेन गेट पर ढोल की थाप पर नाचते हुए कलाकारों ने उनका स्वागत किया।

फिल्म में मनोरंजन के साथ दिया गया है समाज सुधार का संदेश

अंदर प्रवेश करते ही उनके फिल्म वाले गैटअप में कुछ युवा खड़े थे। गुरुजी की गाड़ी के प्रवेश होते ही वे भी झूम उठे। उन्हें देखकर अपनी कार में बैठे-बैठे ही गुरुजी मुस्कुराए और उन्हें आशीर्वाद दिया। इंडोर स्टेडियम के भीतर उनका बेसब्री से इंतजार कर रहे लोगों को जैसे ही उनके अंदर दीदार हुए तो पूरा स्टेडियम तालियों की गड़गड़ाहट व उनके समर्थन में हूटिंग से गूंज उठा। अपने चिर-परिचित अंदाज में गुरुजी ने चारों और बैठी जनता को हाथ उठाकर आशीर्वाद दिया और हाथ हिलाकर अभिवादन स्वीकार किया। इसके बाद वे मंच पर विराजमान हुए। उनके साथ ही दोनों और शाही परिवार के सदस्य बैठे।

बाप-बेटी की जोड़ी के नाम से फेमस हो चुके पूज्य गुरुजी के साथ में बेटी भी बैठी। मंच पर विराजमान होने के बाद अनाउंस किया गया कि फिल्म आने से पहले फिल्म के ट्रेलर ने धूम मचा रखी है। इस पर पूरी भीड़ ने तालियों से खुशी का इजहार किया। कुछ समय के लिए फिल्म जट्टू इंजीनियर के गीतों की झलक दिखाई गई।

फिल्म में गुरुजी को बुलेट बाइक पर सवार होकर आते देख प्रशंसक बहुत खुश हुई और खुशी का इजहार भी किया। कबड्डी के मैदान में उतरे गुरुजी को देखकर तो साध-संगत खुशी से उछल पड़ी। ट्रेलर देखते हुए प्रशंसकों ने गीतों पर खूब डांस किया। स्टेडियम की सीढ़ियों पर व नीचे मैदान में बैठे प्रशंसकों ने खड़े होकर डांस करते हुए खूब मनोरंजन किया।

इस फिल्म में भी दिए हैं कई सामाजिक संदेश

अपनी पहले की फिल्मों की तरह ही डा. एमएसजी ने इस फिल्म यानी जट्टू इंजीनियर के माध्यम से भी कई सामाजिक संदेश देने का प्रयास किया है।

एक गीत के बोल हैं-‘जोश में थोड़े होश में चलते हैं देश के लिए-पूरी शान से छाती तान के-हम अड़ेंगें देश के लिए।’ इस गीत के माध्यम से युवाआें को हर क्षेत्र में कार्य करते हुए देश के प्रति अच्छी भावना रखने का संदेश दिया गया है। इसके साथ ही खेलों में भी युवाआें को मजबूत बनने को प्रेरित किया गया है।


हंसाना भी है पुण्य का काम

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए डा. एमएसजी ने बताया कि हंसाना भी एक पुण्य का काम है। इसलिए ही कॉमेडी फिल्म बनाई है। हमें शुद्ध और बिना डबल मीनिंग के कॉमेडी फिल्म बनाने के लिए चुनौती मिली थी, हमने उसे स्वीकार किया और यह फिल्म मात्र 15 दिन में बनकर तैयार हो गई।

डीएनए रिसर्च पर खर्च होगी फिल्म की कमाई

फिल्म ‘जट्टू इंजीनियर’ से मिलने वाले मेहनताने को खर्च करने के सवाल पर डॉ. एमएसजी ने बताया कि इस फिल्म की कमाई को बोन बैंक व डीएनए रिसर्च पर खर्च किया जाएगा।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top