देश

सरकार मांगों के प्रति नहीं है गंभीर- रोडवेज़ कर्मचारी

Recruitments, Haryana Roadways, Online, Driver, Conductor, Haryana
  • बकाया एरियर न देना होगा कर्मचारियों के साथ धोखा

ChandiGarh, Anil Kakkar:  हालांकि प्रदेश सरकार ने गत दिवस 8200 कच्चे रोडवेज़ कर्मचारियों को पक्का करने का निर्णय लेकर रोडवेज़ के कर्मचारियों को एक अच्छी खबर दी थी लेकिन आज फिर से रोडवेज़ कर्मचारियों ने सरकार को उनकी मांगों के प्रति गंभीर न होने का आरोप जड़ दिया है। हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन संबंधित इंटक के पदाधिकारियों ने सरकार पर कर्मचारियों के एरियर अदायगी में घालमेल करने का आरोप जड़ दिया है।

आज हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन संबंधित इंटक के महासचिव महावीर मालिक ने बताया कि रोडवेज के चालक परिचालकों को नियमित करने की वर्षो की मांग को परिवहन मंत्री ने नियुक्ति तिथि से पक्का करने की अधिसूचना तो जारी कर दी है लेकिन 1200 के करीब रोडवेज़ कर्मचारी जो कि 2003 से 2014 की अवधी में भर्ती हुए थे उन्हें उनका बकाया 350 रुपए का एयियर नहीं मिला है। वहीं जो अधिसूचना जारी हुई है उसके अनुसार एसीपी, रिटायर एवं 2006 के बाद भर्ती हुए कर्मचारियों को सभी लाभ जोड़ कर उसका भुगतान 1 जुलाई 2016 से किए जाएगा।

इंटक के प्रेस प्रवक्ता नसीब जाखड़ ने बताया कि यूनियन ने 18 अक्टूबर को महानिदेशक परिवहन विभाग को 19 सूत्रीय मांग पत्र दिया था जिसे लेकर हरियाणा राज्य परिवहन के अधिकारी लेकर गंभीर नहीं हैं।
उन्होंने कहा कि परिवहन मंत्री किलोमीटर स्कीम पर बस लेने की कह रहे हैं लेकिन हरियाणा रोडवेज के कर्मचारी ऐसा नहीं होने देंगे। यदि हरियाणा रोडवेज के बेड़े में प्राइवेट बस आती हैं तो प्रदेश के बीस हजार कर्मचारी चार हजार बसों का चक्का जाम करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनसंख्या देखते हुए रोडवेज के बेड़े में दस हजार बसें होनी चाहिएं। उन्होंने कहा कि मांगों पर यदि गौर न किया गया तो 12 दिसंबर को करनाल में हजारों कर्मचारी मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपेंगे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top