हरियाणा

रोजगार चाहिए तो पहले देना होगा शपथ पत्र

Affidavit, Employment, Needed, Registration, Scheme, Haryana

‘एक परिवार एक रोजगार’ से बेरोजगारी खत्म करने का दावा

चंडीगढ़(सच कहूँ न्यूज)। रोजगार विभाग में रजिस्ट्रेशन करवाने के बावजूद भी जिन बेरोजगारों को अब तक कोई नौकरी या रोजगार नहीं मिला है, प्रदेश सरकार ऐसे व्यक्तियों को उनकी योग्यता व शपथ पत्र के आधार पर सरकारी व प्राईवेट क्षेत्र का आॅफर लेटर देगा ताकि वे भी आगे बढ़ सकें। उन्होंने कहा कि विभाग इस योजना पर काम कर रहा है।

योजना के तहत अब तक 10,799 ने करवाया पंजीकरण

श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री नायब सिंह सैनी ने बताया कि हरियाणा में ‘एक परिवार एक रोजगार’ योजना के तहत ऐसे परिवार के एक व्यक्ति को रोजगार प्रदान करने में प्राथमिकता दी जाएगी, जिस परिवार का एक भी व्यक्ति रोजगार में नहीं है। श्रम मंत्री ने बताया कि ‘एक परिवार एक रोजगार’ योजना के तहत शपथ पत्र देने पर ऐसे परिवार के व्यक्ति का नाम दर्ज किया जाता है जिसकी आयु 18 से 35 वर्ष के बीच हो और वह आयकरदाता न हो तथा परिवार का कोई भी सदस्य रोजगार में न हो। हरियाणा में 31 मई तक इस योजना के तहत 10,799 व्यक्तियों का पंजीकरण हो चुका है।

युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रेरित करेगा विभाग

श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वे व्यक्तिगत रुचि लेकर स्नातकोत्तर और स्नातक युवाओं को सक्षम युवा रोजगार योजना के तहत युवाओंं का पंजीकरण करवाएं और उनकी वरिष्ठता सूची बनाकर ज्यादा से ज्यादा युवाओं की तैनाती सुनिश्चित कराएं।

राज्य मंत्री ने सभी अधिकारियों को अपने-अपने कार्य का डाटा दुरुस्त रखने के भी निर्देश दिए हंै। उन्होंने निर्देश दिए कि अधिकारी स्व-रोजगार परामर्श कार्यक्रमों के दौरान युवाओंं को स्वरोजगार हेतु ऋण के फार्म भी भरवाना सुनिश्चित करें तथा रोजगार कार्यालय द्वारा युवाओं को स्वरोजगार के लिए पे्ररित किया जाए।

चार दिन में अदा करो सक्षम युवाओं का मानदेय

श्रम मंत्री ने बताया कि प्रत्येक जिले में सक्षम युवा रोजगार योजना के तहत स्नातकोत्तर व स्नातक सक्षम युवाओं के लिए 100 घण्टे का कार्य सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने इस योजना के तहत कार्य कर रहे युवाओं के मानदेय की शत-प्रतिशत अदायगी सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए और कहा कि इन सक्षम युवाओं का कोई मानदेय लम्बित नहीं रहना चाहिए और जून महीने तक का मानदेय 20 जुलाई तक शून्य हो जाना चाहिए।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top