पंजाब

गेहूँ की फसल पर आसमानी आफत का खतरा

Hit Crop

आसमान में छाए बादल, किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें

अचानक मौसम का मिजाज बदला, गर्मी से मिली कुछ राहत

भटिंडा (अशोक वर्मा)। Hit Crop बीती रात चल रही तेज हवा व बादलों के रुख को देखकर क्षेत्र के किसान चिंतित दिख रहे हैं। किसानों का कहना है कि यदि अब बरसात होती है तो वे कहीं के भी नहीं रहेंगे। वैसे भटिंडा शहर में हलकी बूंदाबांदी से मौसम सुहावना हो गया।

पिछले कुछ दिनों से मौसम का मिजाज गर्म था। किसानों का कहना है कि मौसम में अचानक फेरबदल होने से गेहूं की फसल को खतरा बढ़ गया है। जिला भटिंडा में करीब डेढ़ लाख हेक्टेयर क्षेत्रफल में किसानों ने गेहूं की काश्त की है। आर्थिक कठिनाईयों के बावजूद नरमे वाले क्षेत्रफल में किसानों ने समय पर ही गेहूं की बिजाई मुकम्मल कर ली थी।

हवाओं से बिछी फसलें

किसानों का कहना है कि जिस तरह कभी धूप तो कभी वर्षा की हवाएं व बादल छाए हुए है जिससे उनकी दिल की धड़कनें तेज हो गई है। उन्होंने कहा कि यदि अब बरसात होती है तो उनकी छह महीने की कमाई मिट्टी में मिल जाएगी। उन्होंने बताया कि हवा से किसानों की फसलें पहले ही जमीन पर बिछी पड़ी है। यदि अब दोबारा से बरसात होती है तो जमीन पर पड़ी इस फसल से किसानों के हाथ कुछ भी नहीं लगेगा और किसानों की छह महीने की मेहनत मिट्टी में मिल जाएगी।

Hit Crop मौसम बदलाव से कटाई रूकने के आसार बने

किसान नेता जसबीर सिंह बुर्ज सेमां का कहना था कि मौसम में अचानक बदलाव ने किसानों को डरा दिया है। उन्होंने कहा कि अब फसल को सही मौसम की जरूरत है। उन्होंने बताया कि यदि मौसम में नमी आई तो गेहूं व सरसों की कटाई का काम रूक सकता है। महराज के किसान सुखदेव सिंह ने बताया कि अब दिन के समय तेज धूप व रात के समय अच्छी ठंड आवश्यक है।
इससे गेहूं का झाड़ अच्छा होता है। मौसम में बदलाव का प्रभाव मंडियों पर भी देखने को मिल रहा है। आम तौर पर भटिंडा की अनाज मंडियों में एक अप्रैल को गेहूं बिकने के लिए मंडियों में पहुंच जाती थी, लेकिन इस बार मौसम की मेहरबानी के कारण ऐसा नहीं हो सका।

मौसम विभाग का अनुमान

मौसम विभाग ने बताया है कि आगामी 24 घंटों में कुछ स्थानों पर हलकी बारिश की संभावना है। इसी तरह 6 अप्रैल तक 9 से 24 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं भी चल सकती हैं।

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक तापमान में भी गिरावट आएगी व अधिक से अधिक तापमान 34 डिग्री से 36 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा जबकि कम से कम तापमान 20 से 23 डिग्री के बीच रहने के अनुमान लगाए जा रहे हैं। आज कम से कम तापमान 20.2 डिग्री व अधिक से अधिक तापमान 30.2 डिग्री दर्ज किया गया है। आज दिन के समय हवा की रफ्तार 4.6 किलोमीटर प्रति घंटा रिकार्ड की गई।

तेज हवाओं से होगा फसल को नुक्सान: रोमाणा  Hit Crop

पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी के भटिंडा बीच वाले क्षेत्रीय कृषि केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. गुरजिन्दर सिंह रोमाना का कहना था कि हलकी बारिश ने किसानों सहित आम लोगों को गर्मी से राहत दी है लेकिन ज्यादा बारिश, तेज हवाएं चली या औलावृष्टि पड़े तो गेहूं के गिरने से नुक्सान हो सकता है।

उन्होंने कहा कि अब तक गेहूं की फसल को खतरा नहीं महसूस किया जा सकता क्योंकि पिछले दिनों में तापमान बढ़ने से गेहूं की फसल को पानी की जरूरत महसूस करने लगी थी।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top