अंतरराष्ट्रीय ख़बरें

हर जिले में खुलेंगे दिव्यांग ट्रेनिंग व स्कील डेवेल्पमेंट सेंटर

  • कुरुक्षेत्र में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किया ऐलान
  • 3100 दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग वितरित
  • दिव्यांगों के अनुकूल बनाए जाएंगे भवन

Kurukshetra, DeviLal Barna:  दिव्यांगों को आगे बढ़ाने व उन्हें मुख्यधारा से जोड़ने के लिए प्रदेश सरकार अब हर जिले में दिव्यांगों के लिए ट्रेनिंग व स्किल डेवल्पमेंट सेंटर खोलने जा रही है। इसके साथ ही इन भवनों को दिव्यांगों के अनुकूल बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय गीता जंयती महोत्सव के अवसर पर सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार व सामाजिक न्याय व अधिकारिता विभाग हरियाणा तथा भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम (एलिम्को) कानपुर के तत्वाधान में कुरुक्षेत्र लोकसभा क्षेत्र के दिव्यांगों के लिए आयोजित सामाजिक अधिकारिता शिविर एवं निशुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह में बोल रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में करीब 3100 दिव्यांगों को करीब 2 करोड़ 12 लाख रुपए के सहायक उपकरण वितरित किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिव्यांगता कोई अभिशाप नहीं है, अपितु अपने दृढ संकल्प के साथ अपनी प्रतिभा का विकास कर अच्छा जीवन जीया जा सकता है।
05पिछले दिनों पैरा ओलंपिक में देश के 5 दिव्यांगों ने विश्व में पदक जीतकर भारत का परचम लहराया। इसमें हरियाणा प्रदेश की बहादुर बेटी दीपा मलिक ने सिल्वर पदक जीतकर दिव्यांगता को करारी मात दी, जिस पर हरियाणा सरकार ने भी दीपा मलिक को उसकी उपलब्धि पर 4 करोड़ रुपए का नगद इनाम दिया। उन्होंने दिव्यांगों को आह्वान किया कि समाज व जनहित में उनका योगदान अपेक्षित है, उन्हें जब भी मौका मिले वे आगे आकर समाज हित में सेवा भाव से कार्य करें। इसके अलावा सामाजिक संस्थाएं भी दिव्यांगों की मदद को आगे आएं। इस अवसर पर थानेसर के विधायक सुभाष सुधा, लाडवा के विधायक डा. पवन सैनी, मुख्यमंत्री के ओएसडी अमरेन्द्र सिंह, कुरुक्षेत्र की उपायुक्त सुमेधा कटारिया, कैथल के उपायुक्त संजय जून, कुरुक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक सिमरदीप सिंह, भारतीय कृत्रिम अंग वितरण निगम (एलिम्को) कानपुर के सीएमडी डीआर सरीन सहित गणमान्य लोग मौजूद रहे।

एक लाख दिव्यांगों को उपकरण जल्द
सीएम ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा अब तक 10 हजार दिव्यांगों को सहायता उपकरण वितरित करवाएं हैं तथा आगामी दिनों में एक लाख दिव्यांगों को सहायक उपकरण वितरित किए जाएंगे। इससे पहले की सरकारों ने कभी अपने कार्यकाल में इतनी संख्या में दिव्यांगों को उपकरण वितरित नहीं करवाए थे। केंद्रीय सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि दिव्यांगों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए अनेक योजनाओं का सीधा लाभ दिया है। उन्होंने बताया कि भाजपा की सरकार से पहले केंद्र में 15 हजार 831 दिव्यांग कोटे के पद खाली थे लेकिन भाजपा की सरकार बनते ही 12 हजार से अधिक पदों को अब तक भर दिया गया है। उन्होंने बताया कि मोदी सरकार की कैबिनेट में दिव्यांगों का आरक्षण दायरा 3 प्रतिशत से बढ़ाकर 4 प्रतिशत कर दिया गया है।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top