Breaking News

महंगी पड़ी दिव्यांग से मारपीट, हैड कांस्टेबल सस्पेंड

Suspended, Registrar, Education board, Caption Amarinder Singh, Punjab Govt, Education Minister
  • कुरूक्षेत्र में पुलिसकर्मियों ने सरेआम किया था द्रुव्यवहार
  • डीएसपी व एसएचओ करेंगे मामले की जांच

Kurukshetra, DeviLal Barna:  कुरुक्षेत्र में राजेंद्रा नगर में स्थित एक क्वाटर में रविवार को सरेआम दिव्यांग, एक युवती व उसके भाई के साथ मारपीट व द्रुव्यवहार में सोमवार को एक हैड कांस्टेबल सस्पैंड कर दिया गया और मामले की जांच डीएसपी व सिटी थाना प्रभारी को सौंपी गई है। एसपी कार्यालय में सोमवार को डीएसपी से करीब एक दर्जन संस्थाओं के सदस्यों ने मामले की निष्पक्ष जांच करने और दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की गुहार भी लगाई है। मामले को लेकर डीएसपी ने लोगों को आश्वासन दिलाया कि मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। प्रतिनिधिमंडल ने एक लिखित ज्ञापन भी पुलिस के आला अधिकारियों को सौंपा। डीएसपी से मिलने वाले लोगों में लोकस्वराज मंच के रघुबीर गर्ग, कांग्रेस नेता विशाल सिंगला, पूर्व पार्षद खैरती लाल सिंगला, मुनीष मित्तल, नीटू मित्तल दुष्यंत बख्शी, रामस्वरूप रामा, सतबीर, राजेश, पार्षद अमित शैंकी, संदीप गर्ग, शमशेर कश्यप, विशाल शर्मा आदि शामिल थे। इस मामले को लेकर 20 दिसंबर को संस्थाओं की एक अह्म बैठक अग्रवाल धर्मशाला में बुलाई है। जिसमें आगामी रणनीति पर विचार-विर्मश किया जाएगा। वहीं हैड कांस्टेबल ने भी आरोप लगाया था कि उपरोक्त परिवार ने उनके साथ बदसलूकी कर मारपीट की जिससे उसे गंभीर चोटें लगी और एलएनजेपी अस्पताल में पलस्तर करवाकर इलाज करवाया। हैड कांस्टेबल द्वारा की गई शिकायत की जांच डीएसपी करेंगे, जबकि संबंधित परिवार द्वारा पुलिस के खिलाफ की शिकायत सिटी थाना प्रभारी करेंगे।

उच्चाधिकारियों से मिले थे पीड़ित
पीड़ित परिवार के सदस्य सोमवार को पुलिस के उच्चाधिकारियों से मिले थे और उन्हें पुलिस द्वारा की जा रही मारपीट की वीडियो फुटेज भी दिखाई थी। जिसके आधार पर पुलिस के आला अधिकारियों ने सुभाष मंडी चौकी के एक हैड कांस्टेबल को सस्पैंड करने के निर्देश जारी कर दिए। आरोपी पक्ष का कहना है कि पुलिस ने उन्हें पीटा भी, मामला भी उनके खिलाफ दर्ज करवा दिया। रविवार को हुई मारपीट की वीडियो वायरल होने से सोमवार को भी लोगों ने एक दूसरे ग्रुप में मिली मारपीट की वीडियो क्लिप देखी और पुलिस की इस कार्रवाई से लोग खफा नजर आए। शहर से ग्रामीण क्षेत्रों में इस खबर की खूब चर्चा रही कि कैसे परिवार के साथ मारपीट की और उल्टा उन पर मामला दर्ज कर दिया।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top