[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
Breaking News

राष्ट्रपति चुनाव : अलग स्याही व पैन का होगा इस्तेमाल

Voters, Pen, Polling Booth, Presidential Elections, Candidate

चुनाव को लेकर आयोग ने कसी कमर, तैयारियां पूरी

  • यूपी कॉडर के आईएएस अनिल संत को पर्यवेक्षक लगाया

चंडीगढ़(अनिल कक्कड़)। हरियाणा में राज्यसभा चुनाव के दौरान हुए कथित स्याही कांड जैसा वाक्य 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में न हो इसलिए केंद्रीय चुनाव आयोग ने कमर कस ली है। चुनाव आयोग ने आज राष्ट्रपति चुनाव में इस्तेमाल कि अलग अपनी तरफ से स्याही तथा पैन भिजवाए हैं। अब वोट डालने वाले विधायकों द्वारा चुनाव आयोग द्वारा भेजी गई स्याही का ही इस्तेमाल किया जाएगा।

राज्यसभा चुनाव के दौरान हरियाणा में अलग-अलग पैन का इस्तेमाल किए जाने से कई विधायकों के वोट रद्द हो गए और समूचे चुनाव समीकरण बदल गए थे। यह देश में अपनी तरह का पहला घटनाक्रम था। राज्यसभा चुनाव में स्याही कांड के बाद यह पहला चुनाव होने जा रहा है। जिसके चलते चुनाव आयोग ने यह फैसला किया है।

विधानसभा के स्ट्रॉंग रूम में पहुँचे स्याही और पेन

विधानसभा परिसर में राष्ट्रपति चुनाव की अन्य सामग्री के साथ-साथ स्याही व पैन आदि को भी स्ट्रांग रूम में रखवा दिया गया है। हरियाणा के लिए होने वाले मतदान हेतु आईएएस अधिकारी पंकज अग्रवाल को सहायक चुनाव अधिकारी नियुक्त किया गया है जबकि उत्तर प्रदेश कॉडर के आईएएस अनिल संत को पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है। सहायक चुनाव अधिकारी ने आज यहां सभी कर्मचारियों की बैठक भी ली।

पूरा दिन चलेगी मतदान प्रक्रिया, सांसद दिल्ली में डालेंगे वोट

हरियाणा के सभी 90 विधायकों द्वारा विधानसभा परिसर में बने मतदान केंद्र में अपने मताधिकार का प्रयोग किया जाएगा जबकि हरियाणा से संबंधित सांसदों द्वारा दिल्ली में अपने मतदाधिकार का प्रयोग किया जाएगा। राष्ट्रपति चुनाव के लिए 17 जुलाई को मतदान प्रक्रिया सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक चलेगी।

पहली बार वोट डालेंगे सीएम मनोहर एवं कई मंत्री

इस बार हो रहे राष्ट्रपति चुनाव में जहां हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, कृषि मंत्री ओ.पी.धनखड़, सहकारिता मंत्री मुनीष ग्रोवर, खाद्य आपूर्ति मंत्री कर्ण देव कंबोज, उद्योग मंत्री विपुल गोयल के अलावा इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला, चरणजीत सिंह रोड़ी, राज्यसभा सांसद राजकुमार कश्यप तथा सुभाष चंद्रा पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

सियासी दल भी तैयार

दूसरी तरफ हरियाणा के सभी सियासी दलों ने भी इस चुनाव को लेकर तैयारी पूरी कर ली है। इनेलो द्वारा भाजपा प्रत्याशी को समर्थन किए जाने के बाद हरियाणा में आकंड़ों का खेल बदल गया है।

हरियाणा में राष्ट्रपति चुनाव के वोटों का गणित

कुल विधायक?                                             90

  • एक विधायक की वोट वैल्यू?                    112
  • विधायकों की कुल वोट वैल्यू?                  10080
  • भाजपा विधायक की वोट वैल्यू?               05264
  • इनेलो विधायकों की वोट वैल्यू?               02128
  • कांग्रेस विधायकों की वोट वैल्यू?                01904
  • 05 निर्दलीय विधायकों की वोट वैल्यू?        00560
  • 01 अकाली विधायक की वोट वैल्यू?           00112
  • 01 बसपा विधायक की वोट वैल्यू?              0112

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top