मानवता भलाई कार्य

नोटों से भरा पर्स देख भी नहीं डोला डेरा अनुयायी का इमान

Dera followers return purse and offer honesty

सच कहूँ- सुभाष

ऐलनाबाद। अभी भी ईमानदारी जिन्दा है। इसकी ताजा मिसाल डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी नरजीत इन्सां ने एक पर्स उसके असली मालिक को लौटाकर दी। नरजीत इन्सां ने जानकारी देते हुए बताया कि वह सुबह-सुबह अपने घर से निकलकर सिरसा रोड़ पर जा रहा था कि उस सड़क पर पर्स पड़ा दिखाई दिया। जिसमें एक फ ोटो के साथ कुछ जरुरी कागजात व नगदी थी।

आसपास के लोगों से फ ोटो की पहचान करवाने पर उसे पता चला कि यह पर्स बिहार से आकर सब्जी की खेती में मजदूरी करने व वाले प्रेम कुमार के नाम के व्यक्ति का है। जिसके बाद पर्स के असली मालिक प्रेम कुमार को बुलाकर उसे पर्स सौंपा गया।

जिस पर प्रेम कुमार ने पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां का आभार प्रकट किया जिसनी पावन शिक्षा पर चलकर डेरा प्रेमी आज के युग में भी ईमानदारी को जिंदा रखें हुए हैं। इस मौके पर रामावतार पारीक, सुखदेव, बिलासपुरया, डॉ. एनआर सिद्ध, साहिल प्रजापत, सोहन लाल, राजू, संदीप, सुन्दर परिहार, मदन, वंश मोंगा व अनिल उपस्थित थे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top