पंजाब

चार जिला हैडक्वाटर को भी राष्ट्रीय मार्गों से जोड़ने की मांग

Captain Amarinder Singh, Demand, District Headquarters, National Routes, Punjab

कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने गडकरी को लिखा पत्र

  • लंबित प्रोजैक्टों को तेजी से लागू करने के लिए भी कहा

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने खन्ना-मलेरकोटला-रायकोट-जगराओ-नकोदर को नया राष्ट्रीय मार्ग घोषित करने के अतिरिक्त शेष रहते चार जिला हैडक्वाटरों को भी चार मार्गीय/छह मार्गीय सड़कों द्वारा राष्ट्रीय मार्गों से जोड़ने के लिए स्वीकृति में तेजी लाने के लिए केन्द्रीय परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी के दखल की मांग की है।

काम में तेजी लाने की मांग

गडकरी को लिखे एक पत्र में मुख्यमंत्री ने उनका ध्यान भारत सरकार के परिवहन व हाइवे मंत्रालय के समक्ष लम्बित पड़े बहुत से महत्वपूर्ण मुद्दों को विचार करने व उन्हें अंतिम रूप देने की ओर दिलाया। उन्होंने राज्य के लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को मंत्रालय के साथ तालमेल करने और इन मुददों को आगे बढ़ाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई की केन्द्रीय मंत्री निजी रूप से अपने मंत्रालय के संबधित अधिकारियों को इन मामलों संबधी तेजी से विचार करने/अंतिम रूप देने की सलाह देंगे।

अभी तक ये जिला जुड़ें

कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कहा कि पंजाब के 22 जिलों में से 16 जिलेपहले ही चार मार्गीय/छह मार्गीय सडकों द्वारा राष्ट्रीय मार्गों से जुड़ गए है। उन्होंने कहा कि केवल फिरोजपुर, मानसा, श्री मुक्तसर साहिब व फाजिल्का जिले अभी भी दो मार्गीय सड़को द्वारा राष्ट्रीय मार्गों से जुड़े हुए है।

केंद्रीय मंत्री से मांगी मदद

जिलों को चार मार्गीय/छह मार्गीय राष्ट्रीय मार्गों से जोड़ने की विनति करते हुए एनएच 703 को बरनाला मानसा सैक्शन और एनएच 10 को डबवाली-मलोट-अबोहर-फाजिल्का सैक्षन चार मार्गीय स्वीकृत करने के लिए कहा है। मुख्यमंत्री ने इस की स्वीकृति के लिए केंद्रीय मंत्री की सहायता की मांग की है।
कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने तलवड़ी-फिरोजपुर और श्री मुक्तसर साहिब-मलोट सैक्शनों को स्तर उंचा उठाने की प्रक्रिया तेज करने के अतिरिक्त खन्ना-मलेरकोटला-रायकोट-जगराओ-नकोदर को नये राष्ट्रीय मार्ग के रूप में घोषित करने की विनति की है क्योकि यह एनएच-1 (अब एनएच 44) नम्बर 1 द्वारा एनएच 95 के एनएच 71 से जुड़ा हुआ है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top