दिल्ली एनसीआर

दिल्ली यमुना में चलेंगी वाटर टैक्सी

नई दिल्ली(सच कहूँ न्यूज)। दिल्ली व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में यमुना वाटर टैक्सी परियोजना को मूर्त रूप देने के लिए पांच कंपनियां सामने आई हैं।  योजना के तहत यमुना वाटर टैक्सी वजीराबाद से फतेहपुर जट के बीच 16 किलोमीटर के बीच चलाई जाएगी। यमुना नदी में वाटर टैक्सी चलाने को लेकर दायर की गई याचिका पर लंबे समय से राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) में सुनवाई चल रही है। इस परियोजना को लेकर सितंबर में एनजीटी ने जल संसाधन मंत्रालय, पर्यावरण मंत्रालय, दिल्ली सरकार, दिल्ली विकास प्राधिकरण, दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण कमेटी व अन्य पक्षों को याचिका पर अपना जवाब देने के लिए कहा था। मामले की अगली सुनवाई 19 अक्टूबर को निर्धारित है।  यमुना में वाटर टैक्सी चलाने की दिशा में काफी तेजी से काम हो रहा है। जिन कंपनियों ने इस परियोजना के लिए रुचि दिखाई है उनमें से अंतिम नाम तय करने पर विचार किया जा रहा है। यह टैक्सी परियोजना पूरी तरह पर्यावरण के अनुकूल होगी।
परियोजना पर केंद्र 28 करोड़ रुपये खर्च करेगा। इसमें टर्मिनल निर्माण, गाद निकासी और नौकाओं की कीमत भी शामिल है। इस परियोजना के पहले चरण में वजीराबाद बैराज से फतेहपुर जट के बीच 16 किलोमीटर लंबा सफर वाटर टैक्सी से 45 मिनट में पूरा किया जा सकेगा। योजना के अनुसार पानी में तैरने वाले पाच पोर्ट बनाए जाएंगे जो रस्सियों से बंधे होंगे। इन पोर्ट से ही नाव चलेंगी।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top