[horizontal_news id="1" scroll_speed="0.1" category="breaking-news"]
देश

कैजुअल कर्मियों के स्थायी होने की जगी आस

  • सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने दिया आश्वासन

HanumanGarh, SachKahoon News: आकाशवाणी कैजुअल कर्मचारियों के स्थायी होने की आस जगी है। गत दिवस अखिल भारतीय यूनियन के शिष्टमंडल की कैजुअल कर्मियों की नियुक्ति के लिए सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू के साथ दिल्ली के संसद भवन में बैठक हुई। इसमें वित्त राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, शिमला के सांसद वीरेंद्र कश्यप, प्रसार भारती के सीईओ तथा अखिल भारतीय कैजुअल यूनियन के पदाधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में कैजुअल कर्मियों की समस्याओं संबंधी चर्चा करते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने आकाशवाणी के कैजुअल कर्मियों को एक विशेष समिति गठित कर जल्द से जल्द स्थायी करने का आश्वासन दिया। इससे देशभर के आकाशवाणी केजुअल कर्मियों के स्थायी होने की आस बंधी है। इस संबंध में अनाउंसर कंपियर इकाई सूरतगढ़ की बैठक देवेंद्र शर्मा की अध्यक्षता में सूरतगढ़ में संपन्न हुई। इसमें अखिल भारतीय कैजुअल एनाउंसर कंपीयर यूनियन द्वारा दिल्ली में 5 से 9 दिसम्बर तक जंतर-मंतर पर लगाए गए धरना-प्रदर्शन व सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू के साथ हुई बैठक पर चर्चा की गई। इस दौरान अखिल भारतीय यूनियन से जुड़ने के लिए सूरतगढ़ कैजुअल इकाई के 19 सदस्यों ने आवेदन पत्र भरे। अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा ने कैजुअल अनाउंसर कंपीयर्स से स्थाई नियुक्ति संबंधी इस मुहिम को पूरे राजस्थान में तेज करने का आह्वान किया। बैठक में निर्णय लिया गया कि आकाशवाणी सूरतगढ़ के कैजुअल एनाउंसर और कम्पियर्स की सूची बनाकर अखिल भारतीय यूनियन को भेजी जाएगी। बैठक में इकाई के उपाध्यक्ष भूपेंद्र मुद्गल, कमल पारीक, जसवीर सिंह, संजीव कालिया, हरप्रीत सिंह, गोपीराम गोदारा, संजय वैद, भगवान सिंह, राजेंद्र शर्मा, नरेश वर्मा, गुलशन मेघानी, शोभा कौशिक आदि मौजूद थे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top