पंजाब

मुआवजा नीति तैयार करेगी केबिनेट सब-कमेटी

Cabinet, Sub Committee, Compensation Policy, Government, Punjab

सैनिकों, पुलिस कर्मचारियों व हादसे से पीड़ितों को मिलेगा मुआवजा

  • तेजाब पीड़ित महिलाओं के लिए वित्तीय सहायता स्कीम को हरी झंडी
  • शगुन स्कीम में बड़े सुधार करने का फैसला

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब मंत्रीमंडल ने हादसों व आग के पीड़ितों के साथ-साथ सेना, नीम सैनिक बलों व पंजाब पुलिस के शहीदों के लिए नई मुआवजा नीति तैयार करने के लिए हरी झंडी दे दी है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह अध्यक्षता अधीन आज हुई मंत्रीमंडल की बैठक दौरान अनेकों महत्वपूर्ण फैसले लिए गए, जोकि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह की अध्यक्षता अधीन सरकार द्वारा किये गये वायदों पर आधारित है। इसमें तेजाब से पीड़ित महिलाओं को वित्तीय सहायता देने के अतिरिक्त शगुन स्कीम का नाम बदलकर आशीर्वाद स्कीम रखना शामिल है।

8 हजार रूपए प्रतिमाह देगी सरकार

यह प्रस्ताव स्कीम तेजाब पीड़ित महिलाओं के पंजाब वित्तीय सहायता स्कीम 2017 अधीन तेजाब के हमले से पीड़ित महिला को आठ हजार रुपए प्रतिमाह वित्तीय सहायता दी जाएगी। यह सहायता सामाजिक सुरक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा दी जाएगी। इस स्कीम तहत किया जाने वाला भुगतान सीधा पीड़ित के बैंक खाते में जाएगा।

ठेका कर्मियों का सेवाकाल बढ़ेगा

मंत्रीमंडल ने ग्रामीण विकास व पंचायत विभाग में जिला परिषदों के 1186 स्वास्थ्य केन्द्रों में सर्विस प्रोवाईडरों के रूप में कार्य कर रहे फार्मासिस्टो और दर्जा चार कर्मचारियों के ठेके पर आधारित सेवाकाल में एक वर्ष की बढ़ोतरी करने स्वीकृति दे दी है।

यह बढ़ोतरी एक अप्रैल 2017 से 31 मार्च 2018 या नियमित भर्ती (जो भी पहले हो) तक काम चलाऊ प्रंबध के रूप में एक वर्ष के लिए फार्मासिस्ट के लिए सात हजार रुपए प्रतिमाह और दर्जा चार कर्मचारियों के लिए तीन हजार रुपए प्रति माह की मौजूदा दर से किया गया है।

बेअंत सिंह के पौते को बनाया डीएसपी

राज्य में आंतकवाद को खत्म करने और अमन शांति व सदभावना कायम करने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय बेअंत सिंह की महान कुबार्नी को मान्यता देते हुये मंत्रीमंडल ने पूर्व मुख्यमंत्री के पौते गुरइकबाल सिंह को पुलिस विभाग में सीधी आसामी विरूद्ध डीएसपी नियुक्त करने की स्वीकृति दे दी है। प्रवक्ता ने बताया कि विशेष केस के रूप में नियुक्ति के लिए सेवा नियमों में ढील दी गई है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top