देश

बजट सत्र- तीसरा दिन : विभिन्न मुद्दों पर जब आपस में भिड़े दिग्गज

Budget Session, Debate, Various Issues, Haryana, ML Khattar

Chandigarh, Anil Kakkar: Budget Session विधानसभा में जारी बजट सत्र के तीसरे दिन विभिन्न मुद्दों पर सत्ता व विपक्ष के दिग्गज नेता आपस में भिड़ गए। सदन का माहौल गर्म करने वाले विभिन्न मुद्दों पर नेताओं की तल्ख टिप्पणियों एवं आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला देर शाम तक चला।

Budget Session | अनिल विज और अभय चौटाला की भिड़ंत

प्रश्न काल के दौरान नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला द्वारा सीएम विंडो पर उठाए गए सवाल का जवाब प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने दिया। चौटाला ने सीएम विंडो पर शिकायतों की संख्या तथा लंबित शिकायतों के साथ साथ कहा कि सरकार ने यह योजना बंद ही कर दी गई जबकि लोगों को केवल गुमराह किया जा रहा है।
जवाब में विज ने कहा कि ये कहना गलत होगा कि सीएम विंडो बंद कर दी गई है जबकि ये जिला स्तर से सब-डिवीजन तक पहुंच गई है। वहीं सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों का निपटारा हो रहा है।
इसी बीच अनिल विज पर टोंट करते हुए चौटाला ने कहा कि वे उनकी ओर नहीं बल्कि स्पीकर की ओर देख कर उनके सवाल का जवाब दें। इस पर दोनों नेताओं की गर्मागर्म बहस हो गई। जिसे स्पीकर को बंद करवाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।

Budget Session | चौटाला एवं मंत्री कृष्ण बेदी भिड़े

विपक्षी नेता अभय चौटाला ने जाट आंदोलन पर भाषण के दौरान सरकार के मंत्री कृष्ण बेदी के एक ब्यान का हवाला दिया, जिस पर सभा में मौजूद मंत्री कृष्ण बेदी ने चौटाला पर पलटवार किया।
चौटाला ने कहा कि बेदी ने अपने ब्यान में कहा था कि ‘‘लट्ठ के जोर पर आरक्षण नहीं लिया जा सकता’’। इस पर बेदी ने कहा कि यह आरोप बेबुनियाद है जबकि उन्होंने कुछ ओर कहा था। इस बात पर दोनों नेताओं की खूब बहस हुई और सदन में खूब हंगामा हुआ।

Budget Sessionरामबिलास शर्मा और भूपेंद्र हुड्डा की नोक-झोंक

सरकार की ओर से एक जवाब में जब प्रदेश के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कांग्रेस पर पांच जातियों को आरक्षण देने के लिए चुनाव के नजदीक 2014 में समय चुने जाने आने का आरोप लगाया जब प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि शर्मा सदन को गुमराह कर रहे हैं आरक्षण का नॉटीफिकेशन कांग्रेस सरकार ने 2013 में ही जारी कर दिया गया। इस पर मामला गर्म हो गया और दोनों नेताओं की खूब बहस हुई।

Budget Session | कैप्टन अभिमन्यु एवं रघुवीर कादयान का टकराव

सदन में सत्ता पक्ष द्वारा रखी जा रही दलीलों पर विपक्षी नेता रघुवीर कादयान ने सवाल उठाया तो सत्ता पक्ष के मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि हारती हुई फौजें, वापिस भागते हुए कुएं नदियों में जहर मिलाया करती थी।

उसी तरह कांग्रेस ने जाते-जाते प्रदेश के भाईचारे में जहर मिलाया था। इस पर विपक्षी नेताओं ने खूब हल्ला किया। इसी बीच रघुवीर कादयान ने कैप्टन अभिमन्यु को अगला चुनाव नारनौंद से उनके खिलाफ लड़ने की चुनौती दे दी। रघुवीर कादयान ने कहा कि कैप्टन उनके खिलाफ नारनौंद से लड़ें अगला चुनाव वो उनकी जमानत जब्त करवा दें।

वहीं पलटवार करते हुए कैप्टन ने कहा कि पिछली बार एक नेता ने कहा था कि कैप्टन अभिमन्यु अगर चुनाव जीत जाएं तो वे राजनीति छोड़ देंगे परंतु अभी तक उन्होंने राजनीति नहीं छोड़ी। फिर कैप्टन ने कहा कि समय आने पर वे उनकी चुनौती जरूर स्वीकार करेंगे।

Budget Session | कैप्टन अभिमन्यु एवं गीता भुक्कल टकराए

विपक्षी नेता गीता भुक्कल ने मौजूदा वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु पर आरोप लगाया कि उन्हें उनके पैसे का घमंड है। वहीं गीता पर पलटवार करते हुए कैप्टन ने कहा कि उनके पास उनका खून-पसीने का कमाया हुआ पैसा है। लेकिन गीता बताएं कि उन्होंने सरकार में रहते हुए जो काली कमाई की है उसका हिसाब कौन देगा।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top